पूर्व केबिनेट मंत्री ने संत रविदास को किया नमन

लव कुमार शर्मा, हरिद्वार/ संत शिरोमणि गुरु रविदास की जयंती पर उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद ने कहा कि संत रविदास बेहद धार्मिक स्वभाव के थे। उन्होंने जातिवाद, पाखंडवाद से दूर रहकर सभी के उत्थान की बात कही। उन्हें हमेशा महान समाज सुधारक के रूप में जाना जाएगा। वहीं, दूसरी ओर स्वामी यतीश्वरानंद गैंडीखाता स्थित होली एंजल पब्लिक स्कूल के वार्षिकोत्सव में शामिल हुए। उन्होंने मेधावी और विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं के विजेताओं को मेडल से सम्मानित किया।

शनिवार को एकड कलां, नसीरपुर कलां में आयोजित संत शिरोमणि गुरु रविदास की जयंती समारोह में शामिल होकर पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद ने उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए नमन किया। उन्होंने शोभायात्राओं में शामिल होकर उनके चित्रों से सजी पालकी पर पुष्प वर्षा की। उन्होंने संत शिरोमणि गुरु रविदास के जीवन को बहुत ही महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि आज भी उनके विचारों को याद किया जाता है। उनके जातिवाद के खिलाफ किए गए प्रयासों के कारण उन्हें आध्यात्मिक व्यक्ति के साथ एक समाज सुधारक के रूप में भी याद किया जाता है।

स्वामी यतीश्वरानंद ने कहा कि देश में कुछ राजनैतिक दलों ने सत्ता हासिल करने के लिए दलितों का वोट हासिल किया, लेकिन आज भाजपा के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके विचारों को धरातल पर उतारने का काम बखूबी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर ने संविधान में आरक्षण को लागू कराकर दबे कुचले, पिछड़ों को आगे आने का मौका उपलब्ध कराया। उन्होंने सभी से आह्वान कि संत शिरोमणि गुरू रविदास के विचारों को जीवन में उतारे और तरक्की के लिए शिक्षा को अपनाएं।

इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य दर्शना, उप ब्लॉक प्रमुख धर्मेंद्र प्रधान, जिला पंचायत प्रतिनिधि अरविंद, सतीश प्रधान, प्रधान, राजेंद्र, अशोक कुमार, अंकित चौहान, शुभम चौधरी, सतीश कश्यप, मुकेश पंडित, सौरभ शर्मा आदि शामिल हुए।

By Admin

error: Content is protected !!