Breaking News

एडीजी लाॅ एंड आॅर्डर डा.वी.मुरूगेशन ने समीक्षा बैठक कर अधिकारियों को निर्देश दिए


हरिद्वार / अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था डा.वी. मुरुगेशन ने डीआईजी गढ़वाल परिक्षेत्र करन सिंह नगन्याल, एसएसपी अजय सिंह एवं अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर पुलिस मुख्यालय स्तर से प्रचलित अभियान धोखाधड़ी एवं उद्यापन सम्बन्धी अभियोगों के विरुद्ध जनपद पुलिस द्वारा की गयी कार्यवाही की सर्किलवार विस्तृत समीक्षा की। समीक्षा के दौरान सभी क्षेत्राधिकारिओं ने सर्किलवार उनके क्षेत्र में 1 वर्ष से अधिक लंबित विवेचनाओं के संबंध में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर को तथ्यात्मक रूप से अवगत कराया। साथ ही सर्किलों में विवेचना कर रहे उपनिरीक्षकों द्वारा अभियान के दौरान की गयी कार्यवाही की समीक्षा कर विस्तृत ब्यौरा पेश किया। बैठक के दौरान एडीजी डा.वी.मुरुगेशन ने अभियान के दौरान जनपद पुलिस के प्रयासों की सराहना करते हुए क्षेत्राधिकारियों को अपने सर्किल में लंबित विवेचनाओं को स्वयं मॉनिटर करने और अपने ऑफिस के मुंशी के सहारे न रहने ना रहने के निर्देश दिए। निर्देश देते हुए डा.मुरूगेशन ने कहा कि जिन विवेचकों की परफॉर्मेंस खराब है। उनकी रिपोर्ट भेजें और जो अच्छा काम कर रहे हैं उन्हें प्रोत्साहित करें। पीड़ित को देर से न्याय मिलने से न्याय का कोई महत्व नहीं रहता। पुलिस का काम है कि पीड़ित व्यक्ति को न्यायालय के माध्यम से न्याय दिलाना। जिससे की आमजन का पुलिस पर विश्वास बना रहे। साथ ही पुलिस अधीक्षक अपराध नगर व देहात को निर्देशित किया कि पुलिस मुख्यालय या परिक्षेत्रीय स्तर पर जो भी अभियान चलाये जाते हैं। उन्हें प्राथमिकता के आधार पर सभी अधिकारी आपसी समन्वय बनाते हुए अभियान में दिए गए बिंदुओं पर निर्धारित समय के अंदर कार्यवाही करते हुए अभियान को सफल बनाएं। अभियान केवल कागजों में नहीं चलना चाहिए। अभियान फील्ड में दिखना भी चाहिए। जनपद के प्रभारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान विवेचना में लापरवाही बरतने पर कड़ा रूख अपनाते हुए एडीजी डा.वी.मुरूगेशन ने कोतवाली रुड़की में लगभग 1 वर्ष से प्रचलित धारा 420 के अभियोग में उपनिरीक्षक कर्मवीर सिंह को निलंबित किए जाने एवं कोतवाली ज्वालापुर में तैनात उप निरीक्षक वाजिंदर सिंह की प्रारंभिक जांच खोलने हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार को निर्देशित किया।
अभियान के दौरान धोखाधड़ी एवं रंगदारी के 470 अभियोगों में से 273 अभियोगों का निस्तारण किया गया साथ ही 174 अभियुक्तों को 41 सीआरपीसी का नोटिस व 78 अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गयी, 13 अभियुक्तों द्वारा सरेण्ड़र किया गया। शेष 197 अभियोगों में विवेचना प्रचलित है।
बैठक में पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र करन सिंह नगन्याल, एसएसपी अजय सिंह एवं समस्त पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी उपस्थित रहे।

About Admin

Check Also

अत्याधुनिक उपकरणों से लैस होंगे राहत और बचाव दल, मुख्यमंत्री ने दिया आधुनिकतम तकनीक वाले उपकरणों को अपनाने पर जोर

अत्याधुनिक उपकरणों से लैस होंगे राहत और बचाव दल मुख्यमंत्री ने दिया आधुनिकतम तकनीक वाले …

पहाड़ी महासभा की तीन सदस्यीय चुनाव संचालन समिति ने की नई कार्यकारिणी के चुनाव की विधिवत घोषणा, बारह सदस्यीय कार्यकारिणी के लिए चार अगस्त को होगा चुनाव

पहाड़ी महासभा की तीन सदस्यीय चुनाव संचालन समिति ने की नई कार्यकारिणी के चुनाव की …

सावन महीने की संक्रांत पर भाई तारु सिंह की कथा सुनाई

सावन महीने की संक्रांत पर भाई तारु सिंह की कथा सुनाई   लव कुमार शर्मा, …

दिल्ली में केदारनाथ मंदिर बनाने का किया विरोध

दिल्ली में केदारनाथ मंदिर बनाने का किया विरोध   लव कुमार शर्मा, हरिद्वार/ केदारनाथ मंदिर …

देर रात पुलिस और बदमाश में मुठभेड़, बदमाश घायल

देर रात पुलिस और बदमाश में मुठभेड़, बदमाश घायल   लव कुमार शर्मा, हरिद्वार/ देर …

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया जागेश्वर धाम के प्रसिद्ध श्रावणी मेले का शुभारंभ

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया जागेश्वर धाम के प्रसिद्ध श्रावणी मेले का शुभारंभ प्रदेशवासियों …

निर्बल वर्ग ग्रामोद्योग सेवा संस्थान ने किया पौधारोपण सभी के सहयोग से ही पर्यावरण को बचाया जा सकता है- सुधीर गुप्ता

निर्बल वर्ग ग्रामोद्योग सेवा संस्थान ने किया पौधारोपण सभी के सहयोग से ही पर्यावरण को …

error: Content is protected !!